• A+
  • A 
  • A-
  • A
  • A
    • Facebook, External Link that opens in a new window
    • Twitter, External Link that opens in a new window
    • Instagram, External Link that opens in a new window
  • Facebook, External Link that opens in a new window
  • Twitter, External Link that opens in a new window
  • Instagram, External Link that opens in a new window

हिंदुस्‍तान एंटिबायोटिक्‍स लिमिटेड (भारत सरकार का उपक्रम)
पिंपरी,पिंपरी पुणे-411018
रसायन और उर्वरक मंत्रालय के अंतर्गत
सीआयएन सं. यू24231एमएच1954पीएलसी009265

Menu

हिंदुस्‍तान एंटिबायोटिक्‍स लिमिटेड में आपका स्‍वागत है।

हिंदुस्तान एंटिबायोटिक्स लिमिटेड (एचएएल) भारत सरकार द्वारा WHO और UNICEF के सक्रिय सहयोग के साथ सार्वजनिक क्षेत्र में स्थापित होने वाली पहली दवा निर्माण कंपनी है। 10 मार्च, 1954 को स्थापित, एचएएल भारत में पेनिसिलिन, स्ट्रेप्टोमाइसिन, जेंटामाइसिन, एम्पीसिलीन और एमोक्सिसिलिन जैसे एंटिबायोटिक दवाओं के व्यावसायिक उत्पादन के लिए भारत में पहली दवा निर्माण इकाई है। एचएएल ने फॉर्मूलेशन गतिविधि में विविधता लाई है और विभिन्न खुराक रूपों के निर्माण की सुविधा प्रदान की है। इंजेक्टेबल्स, कैप्सूल, टैबलेट्स, बड़ी मात्रा में पेरेंटल्स, मौखिक तरल आदि, जो फार्माकोपियोअल मानकों के अनुरूप हैं। एचएएल ने कृषि-पशु उत्पादों में भी विविधता लाई है। हमारे अनुसंधान एवं विकास को भारत में सार्वजनिक क्षेत्र में एकमात्र प्रयोगशाला होने का गौरव प्राप्त है जो अपनी स्वयं की खोजों विज़ के साथ आई है। त्वचा के संक्रमण के लिए हामायसीन और पौधे के फफूंद नियंत्रण के लिए आरियोफंगिन।

श्री नरेंद्र मोदी

माननीय प्रधान मंत्री

श्री. डी.वी. सदानंद गौडा

माननीय मंत्री (रसायन और उर्वरक, सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन)

श्री मनसुख एल. मंडविया

माननीय रसायन और उर्वरक, सड़क परिवहन और राजमार्ग और शिपिंग के राज्य मंत्री

निविदाएं

सभी को देखें

हमारे वितरक

हमारे एजेंट

mygovstatistics